रियल इस्टेट में निवेश से पहले जान लें कुछ महत्वपूर्ण बातें
रियल इस्टेट में निवेश से पहले जान लें कुछ महत्वपूर्ण बातें

आपके किसी जान पहचान वाले या फिर किसी पड़ोसी ने रियल एस्टेट में इन्वेस्ट कर बहुत लाभ कमाया है और अब उनकी देखा-देखी अगर आप भी रियल इस्टेट में निवेश करने वाले हैं अथवा करने की सोच रहें हैं तो जरा रुक कर दोबारा सोच लिजिए। अगर आपको लगता है कि रियल एस्टेट में निवेश कर आपको रातोंरात फायदा मिल जाएगा तो ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। रियल एस्टेट में निवेश करने वालों को बहुत ही धैर्य से काम लेना पड़ता है और साथ ही कम से कम 4 से 5 सालों तक के लिये निवेश करना पड़ता है। क्यूँकि किसी भी प्रॉपर्टी के दाम बढ़ने में समय तो लगता ही है ऐसे में अगर आप कम 4 से 5 साल तक का इन्तजार नहीं कर सकते हैं तो आप रियल इस्टेट में निवेश नहीं करें तो बेहतर हैं क्यूँकि कम समय में मुनाफा कमाना संभव नहीं है। साथ ही अगर आपने किसी प्रॉपर्टी में निवेश करने का मन बनाया है तो सबसे पहले ये तय कर लें कि आपने वो प्रॉपर्टी अपने प्रयोग के लिये लिया है या किराये पर देने अथवा बेचने के लिये। अगर आप अपने रहने के लिये कोई प्रॉपर्टी ले रहें हैं तो वहाँ का माहौल कैसा है, वो लोकेशन आपके लायक है कि नही, तथा घर का साइज भी मायने रखता है आपके परिवार के पूरे सदस्यों के हिसाब से जगह काफी है या नहीं इन सभी बातों की जाँच पड़ताल अवश्य करें। और वहीं अगर आप किराये पर देने के लिये या कुछ सालों में बेचने के मकसद से किसी प्रॉपर्टी में निवेश कर रहे हैं तो ये जरुर देखें कि वहाँ आसपास स्कूल कॉलेज और अस्पताल है कि नहीं, पब्लिक ट्रान्सपोर्ट की क्या स्थिति है, शॉपिंग म़ॉल्स तथा अन्य सुविधाएँ हैं कि नहीं जरुर देखें। साथ ही मौजूदा प्रॉपर्टी रेट के हिसाब से भविष्य में ग्रोथ होने की कितनी संभवना है अथवा नहीं हैं ये सारी आवश्यक बातें जरुर ध्यान में रखें। ब्याजदरों में होने वाले उछाल और कमी पर विशेष ध्यान दें जिससे आपको मुनाफा मिल सकें। क्यूँकि प्रॉपर्टी की ग्रोथ रेट अगर इंटरेस्ट रेट के तुलना में कम है तो जाहिर सी बात है कि निवेश पर नुकसान का समाना करना पड़ेगा। इसके साथ ही जिस बिल्डर से आप प्रॉपर्टी खरीद रहे हैं उसके बारे में पूरी छानबीन करना और उसका पुराना ट्रैक जरुर चेक करना चाहिए जिससे आप किसी भी प्रकार के जालसाजी के शिकार ना हो पायें। दोबारा जब आप प्रॉपर्टी सेल करते हैं तो उसपर टैक्स का क्या प्रभाव रहेगा ये भी जान लें। अगर आपने लोन लेकर प्रॉपर्टी खरिदी है तो ये भी जान ले कि समय से पहले लोन चुकता कर देने पर उसपर आने वाले प्रीपेमेंट पेनाल्टी और स्टांप ड्यूडी का खरिददार पर क्या असर पडेगा। कानूनी खर्चे और दलाली जैसे खर्चों को भी ध्यान में रखकर ही रियल इस्टेट में निवेश करें।